Header Ads

कड़ी पत्ता खाने के जबरदस्त फायदे : Curry Leaves Benefits In Hindi


कड़ी पत्ता के  औषधीय गुण  :

 Curry Leaves Benefits

Curry Leaves


'कड़ी पत्ता ' मुराया कोएनिजी ( Murraya koenigii), बर्गेरा कोएनिजी ( Bergera koenigii), चल्कास कोएनिजी ( Chalcas koenigii) अथवा   ' 'मीठी नीम की पत्तियाँ ' के नाम से भी जाना जाता है।
कड़ी पत्ते का पेड़ छोटा होता है। इसकी पत्तियां नुकीली और बहुत ही खुशबूदार होती है। दक्षिण भारत व पश्चिमी - तट के राज्यों और श्रीलंका में इन पत्तियों का उपयोग बिल्कुल तेज पत्तों की तरह व्यंजनों के छौंक में, रसेदार व्यंजनों में, कड़ी बनाने में और चटनी बनाने में भी किया जाता है।
कड़ी पत्तियों को आयुर्वेदिक चिकित्सा में जड़ी - बूटी के रूप में इस्तेमाल किया जाता है। कड़ी पत्ता औषधीय गुणों का भंडार है। इनके औषधीय गुणों में एंटी- डायबिटीक ( anti-diabetic) , एंटी- इनफ्लेमेटरी ( anti-inflammatory), एंटीऑक्सीडेंट ( antioxidant), एंटीमाइक्रोबियल ( antimicrobial), हिपैटोप्रोटेक्टिव ((hepatoprotective), एंटी- हाइपरकोलेस्ट्रौटाेमिक ( anti-hypercholesterolemic) इत्यादि शामिल है।

कड़ी पत्ते के औषधीय गुणों के बारे में जानकर हमें पता चलता है कि इसका उपयोग हमारे सेहत के लिए कितना फायदेमंद है।कड़ी पत्ता हमारे भोजन को स्वादिष्ट और खुशबूदार बनाने के साथ-साथ हमारे अच्छी और बेहतर स्वास्थ के लिए भी अत्यंत उपयोगी है। तो आइए जानते हैं कि कड़ी पत्ते के कुछ हैरान कर देने वाले फायदे क्या-क्या है?

1) डायबिटिज को कंट्रोल करने में लाभकारी है :

   कड़ी पत्ता एंटी-डायबिटीक गुणों से भरपूर है। यह शरीर में इंसुलिन की गतिविधि को प्रभावित कर ब्लड शुगर लेवल को कम करती है। इसीलिए डायबिटीज पीड़ितों को रोज सुबह खाली पेट करीब तीन महीने तक 8-10 कड़ी पत्ते चबाना चाहिए। कड़ी पत्ता डायबिटीज को दूर करने में लाभकारी है।

2) त्वचा संक्रमण ( Skin Infections) में फायदेमंद:

कड़ी पत्ते में में एंटी- ऑक्सीडेंट, एंटी - फंगल और एंटी- बैक्टीरियल गुण पाए जाते हैं जो इसे त्वचा के लिए बहुत ही लाभकारी बनाते है। इसके उपयोग से त्वचा  संक्रमण से संबंधित परेशानियों को दूर करने में मदद मिलती है।

3) एनीमिया दूर करने में लाभकारी:

कड़ी पत्ता में भरपूर मात्रा में आयरन और फॉलिक एसिड पाया जाता है। आयरन हमारे शरीर के लिए एक प्रमुख पोषक तत्व है,और फॉलिक एसिड आयरन के अवशोषण ( absorb) करने में मदद करता है। इस वजह से यह एनीमिया से हमारी बचाव करने में कारगर होता है। रोज सुबह खाली पेट एक खजूर को दो कड़ी पत्तो के साथ खाने से एनीमिया होने की संभावना कम हो जाती है।

4) डायरिया को रोकने में कारगर है :

कड़ी पत्ते में कार्बोज़ोल एल्कालॉयड्स होते है,जिसमें एंटी-बैक्टीरियल और एंटी- इंफ्लेमेटरी गुण पाए जाते हैं। इन गुणों के कारण कड़ी पत्ता पेट से संबंधित पित्त  को दूर कर दस्त को सही करने का कार्य करता है। कुछ कड़ी पत्तो को पीसकर इसे छाछ के साथ मिलाकर दिन में दो तीन बार लेने से दस्त में जल्दी आराम मिलता है।

5) लीवर को मजबूत करने में लाभकारी है:

कई बार गलत खान-पान और एल्कोहल की अधिक मात्रा के सेवन की वजह से लीवर कमजोर हो जाता है। ऐसे में कड़ी पत्ते का उपयोग लीवर को मजबूत बनाने में काफी फायदेमंद साबित होता है। कड़ी पत्ता लीवर को ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस से बचाता है जो गलत खान-पान की वजह से लीवर पर पड़ता है। इसमें मौजूद विटामिन ए ओर सी लीवर को दुरुस्त करने में मदद करते हैं।

6) दिल से जुड़ी समस्याओं में लाभकारी :

कड़ी पत्ते का नियमित उपयोग हमें दिल संबधी  बीमारियों से बचाने में सहायक है।कड़ी पत्ते में एंटी- ऑक्सीडेंट गुण होते है। यह कोलेस्ट्रॉल का ऑक्सीकरण होने से रोक देता है। ऑक्सीकृत कोलेस्ट्रॉल बैड कोलेस्ट्रॉल बनाते हैं जो हार्ट डिजीज़ को न्यौता देते हैं।

 Curry Leaves Benefits

Curry Leaves


7) वजन कम करने में सहायक है :

कड़ी पत्ते में मौजूद फाइबर की मात्रा हमारे शरीर में जमा अतिरिक्त वसा और विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालनें में मदद करती हैं। इसीलिए कड़ी पत्ते का नियमित सेवन वजन कम करने में उपयोगी है।

8) कफ के जमाव को कम करने में सहायक है :

कड़ी पत्तें में विटामिन सी, विटामिन ए, एंटी -बैक्टीरियल और एंटी फंगल एजेंट होते हैं ।ये सूखा कफ, साइनसाइटिस और चेस्ट में जमें हुए बलगम को बाहर निकालनें में मददगार है। कफ से राहत के लिए एक चम्मच कड़ी पत्ते के पाउडर में थोड़ा सा शहद मिलाकर दिन में दो बार पीने से फायदा होता है।

9) आंखों की बीमारियों में लाभदायक :

कड़ी पत्ता में मौजूद एंटी ऑक्सीडेंट आंखों की बीमारी जैसे केटरेक्ट को शुरू होने से रोकता है।इसके साथ ही यह नेत्र ज्योति को बढ़ाने में भी मददगार है।

10) चेहरे की चमक बढ़ाने में लाभकारी :

कड़ी पत्ते का फेस पैक बना का चेहरे पर लगाने से चेहरे का रूखापन, झुर्रियां और कील- मुंहासे दूर होते है तथा चेहरा चमकदार बनता है। कड़ी पत्ते का फेस पैक बनाने के लिए झसके पत्ते को सुखाकर उसे पीसकर पाउडर बना लें। अब इस पाउडर में गुलाब जल,नारीयल तेल और मुल्तानी मिट्टी को मिलाकर पेस्ट  बना ले और इस पेस्ट को चेहरे पर 20 मिनट के लिए लगाकर धोले ।

11) बालों को झड़ने और सफेंद होने से बचाएं :

कड़ी पत्ते का नियमित उपयोग बालों को अंदर से आवश्यक पोषक तत्व प्रदान करता है। यह बालों को सफेद होने से रोकता है तथा बालों को टूटने और झड़ने से बचाता है  यह डेंड्रफ को रोकने में भी कारगर है।



12) कीड़े के काटने पर :

कीड़े मकोड़े तथा जहरीले कीड़े के काटने पर काटे गए स्थान पर करी पत्ते के फलों के रस को  नींबू के रस के साथ मिलाकर लगाने से यह लाभ देता है।

13) मासिक धर्म में होने वाले दर्द से राहत :

मासिक धर्म के दौरान होने वाले दर्द से आराम पाने के लिए एक चम्मच कड़ी पत्ते के पावडर को  गुनगुने पानी के साथ दिन में दो बार सेवन करने से ये लाभ देता हैै।

14) कैंसर को रोकता है:

कड़ी पत्ते में एंटी ऑक्सीडेंट होते है जो कैंसर कोशिकाओं को बढ़ने से रोकते है।

15) जलने- कटने पर :

कड़ी पत्ते को पीस कर इसके पेस्ट को जले और कटे स्थान पर लगाने से ये लाभ देता है।

तो दोस्तों ! कड़ी पत्ते के नियमित इस्तेमाल से होने वाले फायदों के बारे में पढ़कर हमें यह पता चलता है कि कड़ी पत्ता औषधिय  गुणों का भंडार है। यह तड़के के रूप में दाल , चटनी , कड़ी , सब्जियां इत्यादि को तो स्वादिष्ट  बनाता ही है साथ ही साथ हमारे स्वास्थ्य के लिए भी किसी वरदान से कम नहीं है। कड़ी पत्ते के पौधों को हम अपने घर- आंगन में बड़े आसानी के साथ लगा सकते हैं और इन पत्तों का फायदा उठा सकते हैं।

No comments